10th के बाद क्या करें और कौनसा Subject लें? 10th Ke Baad Konsa Subject Le?



सभी विद्यार्थी दसवीं तक करियर की बिना कोई खास चिंता किए हुए पढ़ाई करते है और 10th पास कर लेते है लेकिन दसवीं पास करने के बाद अधिकतर विद्यार्थियों के सामने सबसे बड़ी दिक्कत यह आती है कि 10th के बाद क्या करें?, 10th के बाद कौनसा Subject चुनें यानि 11th में कौनसा सब्जेक्ट लेें?

10th ke baad kya kare, konsa Subject choos

हमारे देश में दसवीं तक लगभग हर जगह समान कोर्स चलता है और विद्यार्थी आसानी से 10th उतीर्ण कर लेते है लेकिन दसवीं पास करने के बाद students के सामने एक चौराहा होता है कि किस रास्ते पर जाएं, कौन-सा विषय सही रहेगा और कौनसा कोर्स करें!

इस पोस्ट में बेसिक से लेकर एडवांस तक जानकारी दी गई है कि विद्यार्थी 10th के बाद क्या कर सकते है और कौन-कौन से ऑप्शन है!

10th Ke Baad Kya Kare - दसवीं के बाद कौनसा कोर्स करें? 

दसवीं पास करने के बाद प्रत्येक विद्यार्थी के सामने मुख्य रूप से अपने करियर की लाइन तय करने के लिए तीन मार्ग होते है यानि 10th के बाद विद्यार्थी के पास 11th में विषय select करने के लिए तीन subjects होते है।

ये subjects है कला (Arts), वाणिज्य (Commerce) तथा विज्ञान (Science)। अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप कौनसा विषय चयन करना चाहते है, किस Stream में आगे बढ़ना चाहते है और किस Stream में Career बनाना चाहतेे हैं।

आइये अब बात करते है Subjects के बारे में...

1. विज्ञान (Science)

अगर आप इंजीनियर या डॉक्टर बनना चाहते है तो आपको 10th के बाद Science को एक Subject के रूप में चयनित कर होगा।

यह जरूरी नहीं है कि Science का विद्यार्थी Engineer या Doctor ही बने, आप Science लेकर हर field में जा सकते है।

Science दूसरी Streams के मुकाबले आपसे ज्यादा मेहनत मांगती है। आप Science से 12th करने के बाद किसी भी क्षेत्र में जा सकते है जबकि दूसरी Streams के साथ ऐसा नहीं होता है।

अगर आप इंजीनियरिंग फील्ड में जाना चाहते है तो आपको साइंस में Maths को लेना होगा और यदि आप मेडिकल फील्ड में जाना चाहते है तो आपको साइंस में Biology लेना होगा।

अगर आप चाहें तो इन दोनों को भी ले सकते है (Additional Subject के रूप में)।

इसके अलावा आप साइंस में Agriculture सब्जेक्ट को भी चुन सकते है। यह Subject उन विद्यार्थियों के लिए जो कृषि क्षेत्र में जाना चाहते है।

Maths Group में Physics, Chemistry और Mathematics मुख्य विषय होते है जबकि Biology Group में Physics, Chemistry और Biology मुख्य विषय होते है। साथ ही इन दोनों में हिन्दी और English अनिवार्य विषय रहते है।

2. कला - Arts (आर्ट्स)

अगर आप मीडिया, जर्नलिज्म, सोशियोलॉजी, सोशल सर्विस, हिस्ट्री, पॉलिटिक्स, इकोनॉमिक्स इत्यादि विषयों में रुचि लेते है तो आप 10th के बाद आर्ट्स को ग्यारहवीं में विषय के रूप में चुन सकते है।

अक्सर लोगों की धारणा यह होती है कि आर्ट्स वही लोग लेते है जिनका पढ़ाई में मन नहीं लगता या जिनके 10th में कम मार्क्स होते है लेकिन यह कहना उचित नहीं होगा।

आप आर्ट्स स्ट्रीम का भी चयन कर एक अच्छा करियर बना सकते है। आप आर्ट्स लेकर वकील, पॉलिटिशियन, प्रोफेसर और टीचिंग लाइन में जा सकते है।

आर्ट्स में हिस्ट्री, पॉलिटिक्स, इकोनॉमिक्स, जिओग्राफी, साइकोलॉजी, सोशियोलॉजी, English, हिन्दी, संस्कृत इत्यादि कई विषय होते है जिनमें से आपको 11th class के लिए तीन विषयों का चयन करना होता है।

3. वाणिज्य (Commerce)

कॉमर्स संकाय में बिज़नेस और बिज़नेस के क्षेत्र से सम्बंधित पढ़ने को मिलता है। 

मुख्य रूप से इसमें Accounting, Business Management, Economics, Statistics, Computer  etc. जैसे Subjects होते है। 

Commerce के Students के पास कई सारे Career options होते है जैसे कि Buisness, चार्टर्ड अकाउंटेंट, Company Secretary, Business Consultant, Investment Advisor, Banking sector etc.

Commerce के Student 12th और ग्रेजुएशन के बाद CA, CS, MBA, M.Com, MCA जैसे कई कोर्स कर सकते है।

10th के बाद प्रोफेशनल कोर्स

आप 10th के बाद किसी सब्जेक्ट विशेष में ना जाकर सीधा कोई कोर्स करना चाहते है तो भी कई सारे ऐसे कोर्स मौजूद है जिनसे आप बिना 12th किए सीधे नौकरी या जॉब पा सकते है।

इन Courses में ITI, Diploma etc. मुख्य Course है। ITI की फुल फॉर्म Industrial Training Course. यह कोर्स 2 साल का होता है जिसे करने के बाद आप सीधा जॉब पा सकते है। इसकेे अलावा आप 3 साल का डिप्लोमा भी कर सकते है।

दसवीं के बाद subject चुनने से पहले ध्यान रखें इन बातों का

आइये कुछ ऐसे बिंदुओं पर बात करते है जो किसी भी विद्यार्थी को 10th के बाद सब्जेक्ट चयन करने के महत्वपूर्ण निर्णय में सहायक साबित होंगे।

1. Intrest को जानें

Intrest यानि कि वो काम जिसमें आपकी रुचि है। जिसे आप बिना थके, बिना परेशान हुए कर सकते है। रुचि का भी करियर चयन में एक महत्वपूर्ण रोल होता है।

हमें सबसे पहले अपने इंटरेस्ट को जानना होगा कि हम किस चीज में Intrested है, किस विषय में Intrested है, किस विषय को ज्यादा पढ़ना चाहते है।

अगर आपको लगता है कि आपकी रुचि Internet, Technology में है तो आपको उसी में Career बनाना चाहिए। यदि आपकी रुचि Medical के क्षेत्र में है तो आपको इसी क्षेत्र में करियर बनाना चाहिए।

अतः Subject Choosing  में अपने Intrest का भी ध्यान रखें व इसे महत्व देने की कोशिश करें।

2. Financial Condition का ध्यान रखें

आपकी Financial  स्थिति भी आपके सब्जेक्ट चयन में एक बात बाधा बन सकती है क्योंकि अगर आप ऐसा Stream चुनते है जिसमें आगे की पढ़ाई महंगी होगी तो यह भी एक fact हो सकता है इसलिए अपनी फाइनेंशियल स्थिति को विषय चयन के दौरान ध्यान में रखें।

यह बात जरूर है कि होनहार और मेधावी विद्यार्थियों को सरकार स्कॉलरशिप के जरिए आगे की पढ़ाई के लिए प्रेरित करती है।

*अगर आप में टैलेंट है तो फाइनेंशियल कंडीशन को पढ़ाई के बीच नहीं आने देना चाहिए।

Conclusion

अंत में यही कहना चाहूंगा कि आप जो भी फैसला लें, सोच समझ कर लें और अपने करियर को ध्यान में रखते हुए ही ले।

किसी के दबाव या किसी दोस्त की वजह से अपने फैसले न ले। आप अपना निर्णय अपने माता-पिता, भाई-बहन तथा गुरुजनों से सलाह करने के बाद लें। खुद के इंटरेस्ट का सदा ध्यान रखें। यह आपको उस क्षेत्र में करियल बनाने में बेहद मदद करेगा।

उम्मीद है आपको यह पोस्ट पसंद आयी होगी जिसमें हमने जाना कि 10th के बाद क्या करें और कौनसा सब्जेक्ट लें? अगर आपको यह पोस्ट पसंद आयी है तो इसे शेयर जरूर करें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ