परीक्षा में टॉप करने के लिए ऐसे बनाएं स्टडी नोट्स | Top 8 study notes preparing tips in hindi

किसी भी competitive exam या अन्य किसी परीक्षा (school exams, board exams) में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए आपको नोट्स बनाकर स्टडी करना जरूरी है। आपने जो पढ़ाई की है, उसका रिवीजन करने के लिए नोट्स सबसे बेहतरीन विकल्प है।

अच्छे, शॉर्ट व पाठ्यक्रमानुसार बनाए गए स्टडी नोट्स पढ़ने पर आपके दिमाग में अधिक समय तक टिके रहते हैं जो परीक्षा में अच्छे प्रदर्शन के लिए आवश्यक है। साथ ही इस प्रकार से बनाए गये नोट्स को आप भविष्य में उपयोग के लिए एक सुरक्षित कॉपी के रूप में रख सकते है।

परीक्षा के महत्वपूर्ण समय में पूरे साल आपने जो पढ़ा है, उसे एक-एक करके दोबारा नहीं पढ़ा जा सकता इसीलिए शुरू से नोट्स बनाना आपके लिए फायदेमंद है और परीक्षा के समय आप इन्हें आसानी से पढ़ सकते है जो आपके लिए रिवीजन में बहुत सहायक है।

How to make/prepare better and effective study notes ?


Study notes, notes, study, educational notes
Study notes making tips

दोस्तों सबसे पहले बात यह आती है कि आपको नोट्स क्यों बनाने चाहिए? आप तो अपना सिलेबस किताब से ही पढ़ सकते है लेकिन जरा सोचिए कि क्या आप एग्जाम के समय अपने संपूर्ण सैलेबस को दोबारा एक-एक करके पढ़ सकते है? इसका सीधा सा जवाब है नहीं. इसके अलावा भी नोट्स बनाकर पढ़ना आपके लिए कई तरीकों से फायदेमंद है।

आपको अपने स्टडी नोट्स कुछ इस प्रकार बनाने चाहिए कि वो सरल, शॉर्ट, उचित व पढ़ने के लिए सुविधाजनक हो।

आइए जानते हैं कुछ ऐसे टिप्स के बारे में जो आपको आकर्षक व स्मार्ट स्टडी नोट्स बनाने में हेल्प करेंगे...

1. शॉर्ट स्टडी नोट्स

आपको अपने स्टडी नोट्स हमेशा ऐसे बनाने चाहिए जो आपके संपूर्ण पाठ्यक्रम की तुलना में शार्ट हो व पाठ्यक्रम का एक तरह से निचोड़ हो।

आपको स्मार्ट व इफेक्टिव नोट्स बनाने के लिए शुरू से ही यानि स्टडी सत्र के आरंभ से ही नोट्स बनाने चाहिए।

सोचिए कि आपके किसी पाठ या लेसन में 15 पेज है तो आपको नोट्स कितने पेज में बनाना चाहिए? ... तो आपको अपने नोट्स अधिक से अधिक 5 या 6 पेज के बनाने चाहिए। वैसे भी बुक्स में हमें चीजों को अच्छे तरीके से समझाने के लिए एक्सप्लेन करके लिखा हुआ होता है। बुक्स की तरह एग्जाम में इतने explanation से लिखने की जरूरत नहीं होती है इसलिए नोट्स को शॉर्ट्स भाषा में बनाएं।

2. सिलेबस को ध्यान में रखें

आपको अपने स्टडी नोट्स सिलेबस अनुसार यानि exam oriented बनाने चाहिए। अपने नोट्स सिलेबस अनुसार बनाने के लिए आपके पास अपने बोर्ड या स्कूल का सिलेबस होना जरूरी है।

सिलेबस अनुसार बनाए गए नोट्स आपको सिर्फ परीक्षा तैयारी के लिए पढ़ने में सहायक होंगे।

*अगर आप सिलेबस के अलावा कुछ और सामग्री नोट्स में डालना चाहते हैं तो उन्हें अलग पेन या stared रखें ताकि परीक्षा के समय आप उन्हें ना पढ़ें।

3. चित्र या टेबल का उपयोग

वैसे भी नोट्स का मतलब पाठ्य सामग्री को कम से कम शब्दों में summarize कर लिखना होता है। इसके लिए आप चीजों को explain करने के लिए चित्र या टेबल का प्रयोग कर सकते है।

स्टडी नोट्स को आकर्षक व इंटरेस्टिंग बनाने में टेबल बनाना व चित्रण जरूरी है।

मान लीजिए कोई बड़ा टॉपिक है जिसे कम शब्दों में डिस्क्राइब करना आसान नहीं है तो आप उसे टेबल या चित्र के जरिए बनाकर समझ सकते हैं।

4. विषयानुसार अलग-अलग नोट्स

आपको अपने स्टडी नोट्स सभी विषयों के अलग अलग बनाने चाहिए ताकि परीक्षा के समय आप इन्हें आसानी से पढ़ सकें।

अगर सभी विषयों के नोट्स एक साथ बनाएं तो किसी विषय के टॉपिक को ढूंढना मुश्किल हो जाता है और इससे समय की बर्बादी होती है। इसलिए विषयानुसार अलग-अलग नोट्स बनाएं जो परीक्षा के दृष्टिकोण से उपयोगी रहेंगे।

5. सरलभाषी नोट्स

सरल भाषा में बनाए गए स्टडी नोट्स परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण होते हैं क्योंकि उस समय आप नोट्स पर जरा-सी भी नजर डालें तो आपने जो टॉपिक लिखा है, वो आसानी से समझ में आ जाना जरूरी है।

आपके नोट्स ऐसे होने चाहिए कि जैसे-जैसे आप उन्हें पढ़ते जायें, लिखी हुई चीजें आपके दिमाग में बैठती चली जायें। 

अगर आपको कोई टॉपिक मुश्किल लगता है और आप उसे सरल भाषा में नहीं लिख पा रहे हैं तो अपने टीचर्स की मदद लें।

6. लास्ट ईयर पेपर देखें

अगर आप अपने नोट्स सिर्फ एग्जाम के दृष्टिकोण से बनाने चाहते हैं तो अंतिम वर्षों के प्रश्न पत्रों को जरूर देखें।

लास्ट ईयर के प्रश्न पत्र उठा कर आप देख सकते हैं कि किस किस प्रकार के प्रश्न पूछे गए हैं। ऐसा करने से आप अपने सिलेबस को बहुत अच्छी तरीके से analyse कर शानदार स्टडी नोट्स बना पाएंगे।

● परीक्षा के तनाव से कैसे बचें ?

7. नोट्स खुद बनायें

आपको अपने नोट्स खुद बनाने चाहिए, न कि किसी के कॉपी करने चाहिए। किसी और के लिखे गए नोट्स उसके अपने दृष्टिकोण से लिखे गए होते हैं और वो सिर्फ उसके लिए परफेक्ट होते हैं, ना कि आपके लिए।

हां यह बात जरूर है कि आप अपने नोट्स को अच्छा व बेहतर बनाने के लिए उन नोट्स की मदद ले सकते है लेकिन आपके नोट्स self written होने चाहिए। यह बात तो आप अच्छी तरीके से जानते होंगे कि किसी दूसरे के लिखे गए नोट्स की तुलना में आप अपने हाथ से लिखे गए नोट्स को अच्छी तरीके से पढ़ पाते हैं।

8. Attractive Notes 

नोट्स को इंटरेस्टिंग बनाने के लिए आपको उन्हें थोड़ा आकर्षक रूप देना चाहिए। इसके लिए आप अलग-अलग कलर के पेन उपयोग कर सकते हैं। 

साथ ही नोट्स बनाते समय अपनी लिखावट का ध्यान रखें ताकि नोट्स देखने में सुंदर बनें। इसके अलावा आप नोट्स बनाते समय नोट्स में पैराग्राफ्स के मध्य आवश्यक लाइन जरूर छोड़ें। आप अपने study notes को और अधिक उपयोगी बनाने के लिए अपनी बुक्स तथा टीचर्स के अलावा कोई additional information/book का भी सहारा ले सकते हैं जो आपके सिलेबस के अनुसार हो।

स्टडी नोट्स बनाने के फायदे


Notes, study notes, educational notes, study
Benefits of notes

नोट्स बनाकर पढ़ना एक अच्छे विद्यार्थी की पहचान होती है। नोट्स बनाकर पढ़ने से आप स्मार्ट स्टडी कर पाएंगे।

नोट्स आपके द्वारा पढ़े गए संपूर्ण पाठ्यक्रम का निचोड़ होते हैं जो कम समय में ज्यादा पढ़ाई कराने में हेल्पफुल है।

जब आप नोट्स बनाते हैं तो पढ़ने के साथ-साथ आप लिखते भी हैं जो आपकी writing skills मजबूत करने में सहायक है और यह बात एग्जाम की दृष्टि से अच्छी है।

नोट्स में आप कम शब्दों में अधिक जानकारी पाते हैं क्योंकि सिलेबस तो आपके पढ़ा हुआ होता है और परीक्षा के समय एक बार नोट्स पढ़ने से आप पूरी चीज को समझ जाते हैं।

आप अपने बनाए गए नोट्स को भविष्य के लिए एक सुरक्षित कॉपी के रूप में रख सकते हैं क्योंकि क्या पता वो नोट्स आपके लिए भविष्य में किसी परीक्षा तैयारी के लिए काम आ जायें।

Also read ^^
● मोबाइल पर ऑनलाइन मैग्जीन कैसे पढ़ें?
● रात में पढ़ाई कैसे करें ?

Conclusion

स्टडी नोट्स परीक्षा के दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण होते है। अगर आप परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन चाहते हैं तो आपको नोट्स बनाकर अवश्य पढ़ना चाहिए। नोट्स आपके लिए परीक्षा में बेहतर परिणाम हासिल करने में सहायक साबित हो सकते है। जरूरत है तो सिर्फ मेहनत और स्मार्ट स्टडी की।


उम्मीद है दोस्तों आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी जिसमें हमने जाना कि नोट्स कैसे बनाएं तथा स्टडी नोट्स बनाकर पढ़ने के फायदे क्या है?

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ